लोन क्या है, अपने लिए सबसे अच्छा लोन खोजें?

डिजिटल गब्बर लोन

आज के समय में पैसे की जरूरत सभी को होती है अगर आपके पास पैसे नहीं है, और आपको कुछ खरीदना है,तो इसके लिए आपके पास एक बहुत अच्छा विकल्प है, बैंक से लोन लेने का। किसी भी बड़ी परेशानी में या कोई भी पैसे की समस्या के लिए बैंक से लोन लेकर मनुष्य के जीवन को बहुत आसान बना दिया जाता है।

अक्सर आपने लोगों को बात करते हुए सुना होगा या देखा होगा कि किसी भी बड़ी परेशानी या कोई नया व्यापार किसी भी चीज के लिए बैंक से लोन लेने के बाद करते हुए देखे होंगे।  बैंक से लोन लेने के लिए आपको बैंक में आवेदन करना होता है। उसके बाद ही आप को बैंक से लोन मिल पाता है। आइए आज हम कुछ आर्टिकल के माध्यम से आपको बैंक लोन किस प्रकार से किया जाता है, लोन कितने प्रकार के व्यक्ति को मिल सकते हैं, इन सभी के बारे में आइए जानते हैं

होता क्या है लोन?

आज के इंसान की सबसे बड़ी जरूरत पैसा है। जब भी कोई भी व्यक्ति अपने निजी काम के लिए या फिर किसी कंपनी के लिए कर्ज के रूप में बैंक के द्वारा ली जाने वाली राशि को लोन कहा जाता है। इस लोन की राशि को बैंक में कुछ महीनों या सालों में ब्याज के साथ में चुकाना पड़ता है। बैंक के द्वारा दी गई राशि को ब्याज के साथ चुकाने को ही लोन कहा जाता है।

हमारे देश में अधिकतर लोग सामान्य परिवारों से ताल्लुक रखते हैं। आज सभी लोगों को पैसे की आवश्यकता होती है चाहे घर बनाना हो पढ़ाई करनी हो कार लेनी हो या अन्य कई प्रकार के कारण हो सकते हैं इन सभी कारणों की वजह से लोग खुद की कमाई में से कुछ भी नहीं खरीद सकते, क्योंकि आज मनुष्य की आवश्यकता है तो बहुत है, लेकिन आमदनी बहुत कम है ऐसे में सभी कामों को पूरा करने के लिए बैंक से उधार के रूप में लोन लिया जाता है।

बैंक द्वारा लोन लेने के कारण

लोन लेने के लिए बहुत ही वजह क्या कारण हो सकते हैं इंसान बेवजह तो लोन नहीं लेता है। किसी ना किसी कारणवश यह व्यक्ति को लोन लेना पड़ता है। अगर व्यक्ति को घर खरीदना है तो वह लोन होम लोन कहलाता है। अगर इंसान को अपने निजी काम के लिए या कोई नया काम शुरू करना चाहता है। उसके लिए लोन लेना है, उसको पर्सनल लोन कहा जाता है। ऐसे ही सभी लोन लेने के अलग-अलग कारण होते हैं, और उनको अलग-अलग श्रेणी में भी बांटा जाता है।

जब व्यक्ति अपनी जरूरत के अनुसार लोन लेता है तो वह अपनी कमाई के हिस्से में से हर महीने कुछ इंस्टॉलमेंट की राशि के द्वारा पैसे चुका देता है सभी व्यक्ति इस लोन की राशि को एक्स्ट्रा पैसे अर्थात ब्याज के साथ इस लोन की पूरी राशि को खत्म करते हैं, इसीलिए बैंक सभी लोगों को उनकी जरूरत के अनुसार लोन देकर मदद करती है, क्योंकि कोई भी व्यक्ति अपनी जरूरतों को शायद अपनी कमाई से पूरा नहीं कर सकते इसीलिए बैंक के द्वारा लोन लेकर सभी कामों को व्यक्ति आसानी से कर लेता है।

बैंक लोन का सही परिभाषा

जब भी कोई व्यक्ति अपने किसी कारोबार या अपने निजी काम के लिए या फिर कोई राज्य या देश बैंक से पैसा उधार लेता है और बैंक के द्वारा कुछ समय के अंदर ही उस लोन की राशि को ब्याज के साथ चुकता है, उसी को लोन कहा जाता है।

लोन देते समय बैंक अपने ग्राहकों को जो भी पैसे लेने वाले व्यक्ति हैं या कंपनी या फिर देश के साथ इस बात की लोगों को पहले जानकारी दे देता है कि जो भी लोन की राशि बैंक के द्वारा दी जाएगी उसको हर साल ब्याज के साथ कितने समय में व्यक्ति उस राशि को झुका सकता है अगर लोन लेने वाला व्यक्ति बैंक के द्वारा बताई गई सभी जानकारियों से संतुष्ट हो जाता है तो उस व्यक्ति को लोन दिया जाता है।

इसके बाद बैंक भी व्यक्ति की पूरी जानकारी जिस चीज के लिए व्यक्ति लोन लेना चाहता है। उन सभी के बारे में सही जानकारी प्राप्त करके और उसका सिविल स्कोर जांच करने के बाद ही व्यक्ति को लोन देता है।

बैंक द्वारा दिए जाने वाले लोन की श्रेणीयां

सभी बैंकों के द्वारा लोन को दो श्रेणियों में बांटा गया है जो निम्न है…

secured-loan Secured Loan (सिक्योर लोन)

सिक्योर लोन

सिक्योर्ड लोन वह होता है जिसके अंतर्गत व्यक्ति को किसी चीज की गारंटी जैसे प्रॉपर्टी कोल्ड फिक्स्ड डिपॉजिट पीएफ आदि को गारंटी के रूप में बैंक के पास में गिरवी रखना पड़ती है। उसके बाद भी बैंक के द्वारा लोन जब दिया जाता है किसी भी चीज को आप गिरवी रख रहे हैं अर्थात बैंक के पास सिक्योरिटी के रूप में जमा करवा रहे हैं उसके बाद ही आपको बैंक लोन देता है।

उदाहरण के लिए आपने एक नया घर खरीदा उसके लिए अपने बैंक से होम लोन के लिए आवेदन किया है।अब बैंक आपको होम लोन जब देगा पहले आप अपनी प्रॉपर्टी के जो भी कागजात है उनको बैंक के नाम करोगे, उसके बाद ही आपको बैंक लोन देगा। जब आप बैंक द्वारा दी गई राशि को ब्याज के साथ चुका देते हैं तो वापस से बैंक आप की प्रॉपर्टी के कागजात आपके नाम कर देता है। अधिक पढ़ें…

Unsecured -loan Unsecured Loan (अनसिक्योर्ड लोन)

अनसिक्योर्ड लोन

यह लोन वह होता है इसके अंतर्गत किसी की गारंटी की आवश्यकता नहीं होती है। यह व्यक्ति की सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए होता है। यह लोन बैंक के द्वारा बहुत कम समय के लिए दिया जाता है।

पर्सनल डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के द्वारा ही इस लोन को ले सकते हैं। जब इंसान की आवश्यकता या जो भी जरूरत है वह पूरी हो जाए उसके बाद इस लोन को बहुत कम समय में चुकाना पड़ता है। इस लोन के लिए बैंक आपके सिबिल स्कोर और पर्सनल आपके खाते के लेनदेन को देखता है। उसके बाद ही ग्राहक को लोन दिया जाता है। अधिक पढ़ें…

बैंक लोन के प्रकार

जब भी कोई व्यक्ति अपने प्लीज ई काम के लिए या फिर कंपनी के लिए बैंक में जाकर लोन के लिए आवेदन करता है, तो सबसे पहले बैंक वाले ग्राहक से यह सवाल करते हैं, कि आपको लोन किस तरीके का चाहिए, किसके लिए चाहिए। लोन का मतलब यह होता है, कि जैसी जरूरत व्यक्ति को होती है। उसी प्रकार से उसको और दिया जाता है। ऐसा नहीं होता कि आपने बैंक से कर्ज मांगा और बैंक वाले आपको पैसे नहीं दे रहे, लेकिन आपको पहले अपनी जरूरत को बैंक वालों के सामने रखना होगा, बताना होगा उसके बाद ही बैंक वाले यह निश्चित करेंगे कि आपको लोन मिल सकता है या नहीं मिल सकता आइए जानते हैं, कितने प्रकार के लोन बैंक के द्वारा दिए जाते हैं –

1. होम लोन

आज हमारे देश में सभी व्यक्ति चाहते हैं कि उनका एक छोटा सा घर हो ऐसे में बहुत से व्यक्ति ऐसे होते हैं। जिनके पास अपना खुद का घर नहीं होता है।इसका कारण है की व्यक्ति के पास इतना पैसा नहीं हो पाता है,कि जिससे वह अपने घर खरीद सके।

 ऐसे में व्यक्ति होता है कि किस तरह से वह अपना एक घर बना सके इसके लिए वह बैंक में जाकर होम लोन के लिए आवेदन करता है। बैंक होम लोन जरूरतमंद सभी व्यक्तियों को देती है।

इसके लिए व्यक्ति को हर महीने मासिक किस्त के रूप में बैंक को ब्याज की राशि के साथ पैसे जमा करवाने होते हैं। लोन की राशि चुकाने में व्यक्ति को 20 से 25 साल का समय लग जाता है।

 होम लोन सामान्य वर्ग के लोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। जो व्यक्ति अपनी नौकरी में घर बनाने में समर्थ नहीं होते ऐसे लोगों की मदद बैंक के द्वारा होम लोन देकर की जाती है। इसी की वजह से आज सामान्य व्यक्ति भी अपना एक छोटा सा घर बना लेता है।

2.कार लोन

आज सभी व्यक्ति ऐसा सोचते हैं उसका छोटा घर हो गाड़ी हो तभी अपनी फैमिली को पूरा समझने लगता है व्यक्ति का पहला सपना घर तो दूसरा सपना गाड़ी होती है।

जो भी नौकरी पेशा व्यक्ति हैं, उनके लिए बहुत मुश्किल हो पाता है कि वह एक नई गाड़ी खरीद सके और अपने परिवार के खुद के सपनों को पूरा कर सके।

व्यक्ति के इन्हीं सपनों को पूरा करने के लिए बैंक के द्वारा कार लोन की सुविधा भी होती है इसमें जो भी नौकरी पेशा व्यक्ति है वह बैंक में कार का लोन लेने के लिए आवेदन कर सकता है आपको बैंक में जाकर उनकी सभी शर्तों को पूरा करके लोन के लिए आवेदन करना होगा।

उसके बाद आपको बैंक के द्वारा कार लोन मिल जाएगा आपको कार लोन की किस्त हर महीने अपने बैंक अकाउंट के द्वारा खटवानी होंगी कार लोन लेने के लिए ब्याज भी ज्यादा नहीं लगता है

3. पढ़ाई के लिए लोन

आज सभी मां बाप चाहते हैं कि उनके बच्चे पढ़लिख कर डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, जिस क्षेत्र में उनकी रुचि हो उनके अनुसार वह आगे बढ़े। ऐसे में मध्यम वर्गीय परिवार और गरीब परिवारों के लिए बहुत बड़ी समस्या इन्हीं बच्चों की पढ़ाई के लिए हो जाती है, क्योंकि जैसे जैसे बड़ी क्लासों में बढ़ते हैं तो पढ़ाई के लिए बहुत पैसे खर्च होते हैं। ऐसे में सभी बैंक बच्चों की आगे की पढ़ाई के लिए लोन देती है।

इस लोन को लेने के लिए एक गारंटर की आवश्यकता होती है जोकि इस लोन को भरने की पूरी जिम्मेदारी लें गारंटर के लिए छात्र का कोई भी परिवार का सदस्य या फिर उसका पिता का उस बैंक में अकाउंट होना बहुत जरूरी है उसके बाद ही पढ़ाई के लिए लोन दिया जाता है।

4. पर्सनल लोन

व्यक्तिगत लोन या पर्सनल लोन कोई भी व्यक्ति अपने निजी कामों को पूरा करने के लिए ले सकता है इस नोन को अनसिक्योर्ड लोन भी कहा जाता है इस लोन में ब्याज की दर अन्य लोन की तुलना में अधिक होती है।

आज अधिकतर बैंक व्यक्तियों को पर्सनल लोन देते हैं पर्सनल लोन के अंतर्गत व्यक्ति पैसे को अपने किसी भी निजी काम के लिए खर्च कर सकता है।

5. व्यापार के लिए लोन

हमारे देश में आज भारत सरकार के द्वारा ऐसी बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही है जिनके अंतर्गत सरकार रोजगार करने वाले व्यक्तियों को मुद्रा लोन के अंतर्गत व्यापार लोन दे रही है।

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं, आज हमारे देश में बेरोजगारी की बहुत बड़ी समस्या का सभी लोगों को सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में सरकार बहुत से ऐसे कदम उठा रही है। जिससे लोगों को रोजगार के नए अवसर मिल सके। सरकार के द्वारा मुद्रा लोन के अंतर्गत 10 लाख या इससे भी अधिक का लोन रोजगार के लिए मिल जाता है।

6.गोल्ड लोन

आजकल आप अक्सर टीवी रेडियो समाचार पत्रों के माध्यम से बहुत ही कंपनियों के ऐड देखते होंगे और मैं अक्सर दिखाया जाता है कि गोल्ड लोन कैसे लेते हैं यह बहुत ही आसान प्रक्रिया है। आप किसी भी कंपनी में सोने को गिरवी रख कर सोने की कीमत पर ही आप लोन ले सकते हैं।

जब भी व्यक्तियों को पैसे की जरूरत होती है, और उनके सामने कोई रास्ता नहीं होता तो ऐसे में वह बैंक के पास अपना सोना जमा करवा कर उसके बदले पैसा लेना उचित समझते हैं, क्योंकि बैंक में सोना सुरक्षित रहता है।

7. मॉर्गेज लोन

कई बार ऐसा होता है कि अचानक से पैसे की जरूरत पड़ती है तो लोन लेने का ख्याल मन में सबसे पहले आता है। इसके लिए सबसे बड़ी समस्या आती है कि किस तरह से बैंक से लोन लिया जाए ऐसे में आप बैंक के पास सिक्योरिटी के रूप में अपना घर या कोई भी प्रॉपर्टी गिरवी रख सकते हैं। बैंक के पास गिरवी आप की प्रॉपर्टी सिक्योरिटी के रूप में होती है। बैंक के पास अपनी प्रॉपर्टी को गिरवी रख कर दिए जाने वाले लोन को मॉर्गेज लोन कहा जाता है।

मोरगेज लोन लेने के लिए आप अपना नया मकान खरीदने बनवाने आदि के लिए भी ले सकते हैं इस लोन की रकम आप की प्रॉपर्टी की स्थिति और बैंक की लोन पॉलिसी आपकी क्या है उस पर निर्भर करती है।

पहले के समय में लोग ऐसे ही किसी भी दुकानदार सुनार किसी के पास भी अपने सोने को गिरवी रख कर पैसा ले लिया करते थे। उसमें बहुत ही नुकसान भी उठाना पड़ता था, लेकिन आज बैंकों ने गोल्ड लोन देकर इस सुविधा को बहुत आसान बना दिया है। इसमें व्यक्ति को बहुत फायदा हो जाता है। इंसान को उसकी जरूरत के लिए पैसा भी मिल जाता है और उसका सोना भी सुरक्षित रह जाता है।

8.संपत्ति के बदले मिलने वाला लोन

संपत्ति के बदले मिलने वाला लोन अर्थात लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी नाम से ही स्पष्ट हो रहा है कि यह लोन आप बैंक में संपत्ति को रखोगे अपनी कोई भी निजी प्रॉपर्टी को रखने के बाद ही बैंक से लोन मिलता है।

इस लोन के अंतर्गत जो भी आवेदन करता है,उसके गारंटी के तौर पर उसके माता-पिता होते हैं। उसकी जमीन के बदले लोन दिया जाता है, अर्थात व्यक्ति की संपत्ति को मॉर्गेज करके उसके बाद लोन मिलता है।व्यक्ति की संपत्ति के जो भी कागजात है ,उन पर कानूनी तौर से बैंक का ही अधिकार रहता है।जब तक व्यक्ति उस लोन को नहीं चुका देता है। तब तक उसकी संपत्ति बैंक के पास में ही मॉर्गेज पर रहेगी।

लोन लेने के लिए जरूरी कागजात योग्यता

बैंक द्वारा लोन लेने के लिए जब भी आप आवेदन करते हैं तो इसके लिए कुछ महत्वपूर्ण कागजात और आपकी योग्यता देखकर ही बैंक आपको लोन देता है आइए जानते हैं किन किन महत्वपूर्ण कागजात और योग्यताओं का होना जरूरी होता है…

  • आवेदन कर्ता की उम्र 21 साल से अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदन कर्ता की सालाना कमाई 300000 से 500000 वर्ष की होनी चाहिए।
  • 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट
  • सैलरी स्लिप
  • चेक
  • रेजिडेंशियल प्रूफ
  • आधार कार्ड पैन कार्ड

बैंक लोन लेने के क्याक्या फायदे होते हैं

आज पैसा हर व्यक्ति की जरूरत है ऐसे भी बैंक से लोन लेकर व्यक्ति अपनी जरूरतों को पूरा करता है आइए जानते हैं बैंक के द्वारा लोन लेने से क्या-क्या फायदे व्यक्ति को मिल सकते हैं…

  • बैंक के द्वारा लोन मिलने का सबसे बड़ा फायदा आपके खुद के लिए होता है जब भी व्यक्ति पर्सनल लोन लेता है इससे उसके बजट पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है व्यक्ति की जरूरत भी पूरी हो जाती है। इसके अलावा आपके रोजाना के खर्चों को भी सही तरीके से संभाल लेता है।
  • जब भी आप बैंक लोन के लिए आवेदन करते हैं तो बैंक के द्वारा सभी लोन 48 घंटे में अप्रूवल हो जाते हैं। इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी बात आपको सभी जरूरी कागजातों को पहले ही बैंक में जमा करवाना पड़ता है।
  • बैंक के द्वारा लोन लेने का सबसे बड़ा फायदा व्यक्ति की जरूरत के अनुसार उसकी कमाई और बैंक की स्टेटमेंट के आधार पर ही उसको लोन की राशि प्राप्त हो जाती है।
  • लोन के लिए जब भी आप आवेदन करते हैं। सबसे महत्वपूर्ण चीज इसमें लोन की राशि को वापस चुकाने की होती है। इसके लिए आपको 12 महीने से लेकर 60 महीने तक का समय बैंक के द्वारा दिया जाता है।
  • बैंक के द्वारा लिए जाने वाले सभी प्रकार के लोन में आपको इनकम टैक्स एक्ट ऑफ 1961 के अनुसार टैक्स में भी फायदा मिल जाता है।

निष्कर्ष

आज के समय में सभी व्यक्तियों को किसी ना किसी शेर की आवश्यकता होती है उसके लिए 10 के द्वारा लोन भी लेने पड़ते हैं लोन किसी भी प्रकार के हो सकते हैं चाहे पर्सनल लोन ओं कार कार लोन हो व्यापार के लिए लोन हो व्यक्ति को जिस लोन की आवश्यकता होती है वह अपनी जरूरत के अनुसार लोन ले लेते हैं।

बैंक के द्वारा व्यक्ति के बुरे वक्त में पैसे देकर मदद की जाती है आज के समय में कोई भी व्यक्ति अपनी जरूरत के लिए लोन लेकर अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकता है।

आज हमने इस आर्टिकल के माध्यम से लोन क्या है,लोन कितने प्रकार के होते हैं, कितने भागों में लोन को बांटा जाता है,इन सभी चीजों के बारे में विस्तार से बताया है, लोन लेने के लिए व्यक्ति की क्या-क्या योग्यताएं, क्या-क्या जरूरी कागजातों की आवश्यकता होती है, इन सभी चीजों की जानकारी इस लेख में दी है।